August 13, 2022
Poem on Success and Hard Work in Hindi

Poem on Success and Hard Work in Hindi – इमोशनल हिंदी कविता

Poem on Success and Hard Work in Hindi:- दोस्तों आपके लिए एक इमोशनल कविता पेश कर रहा हूँ जिसे पढ़कर आपको Hard Work करने की प्रेरणा मिलेगी। ये एक Motivational Hindi Poem है। इस कविता में कही न कही आप अपने आप को महसूस करेंगे।

Best Poem on Success and Hard Work in Hindi for Students

Poem on Success and Hard Work in Hindi

बैठ जाता हू मिट्टी पर अक्सर क्योंकि मुझे अपनी औकात अच्छी लगती है,

मैंने समुन्दर से सीखा है, जीने का सलीखा।

चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना,

ऐसा नहीं है कि मुझमे कोई ऐब नहीं है,

पर सच कहता हू मुझमे कोई फरेब नहीं है।

जल जाते है मेरे अंदाज से मेरे दुश्मन,

क्योंकि एक ज़माने से मैंने ना महोब्बत बदली है,

और ना ही दोस्त बदले है।

एक घडी खरीद कर हाथ में क्या बाँध ली,

ये वक्त तो पीछे ही पड़ गया मेरे।

सोचा था घर बनाकर सुकून से बैठूँगा,

पर घर की ज़रुरतो ने मुसाफिर बना डाला।

सुकून की बात मत कर ए ग़ालिब,

वो बचपन वाला ऐतबार अब नहीं आता।

शोक तो माँ-बाप के पैसो से पुरे होते है,

अपने पैसे से तो बस ज़रूरते ही पूरी हो पाती है।

जीवन की भाग-दौड़ में वक्त के साथ रंगत चली जाती है,

हंसती खेलती जिन्दगी भी आम हो जाती है।

एक सवेरा था जब हंस कर उठा करते थे हम,

लेकिन आज बिना मुस्कुराये ही शाम हो जाती है।

कितनी दूर निकल गए हम रिश्तो को निभाते-निभाते,

खुद को खो दिया हमने अपनों को पाते-पाते।

लोग कहते है कि हम मुस्कुराते बहुत है,

लेकिन हम थक गए दर्द छुपाते-छुपाते।

खुश हू और सबको खुश रखता हू,

लापरवाह हू फिर भी सबकी परवाह करता हू।

चाहता हू कि ये दुनिया बदल दू,

लेकिन दो वक्त की रोटी के जुगाड़ से फुर्सत नहीं मिलती।

महंगी से महंगी घडी पहन कर देख ली,

लेकिन ये वक्त मेरे हिसाब से कभी नहीं चला।

यूही हम हम दिल को साफ़ रखने की बात करते है,

पता ही नहीं था की कीमत तो चेहरों की हुआ करती है।

अगर खुदा नहीं है तो फिर उसका जिक्र क्यूँ,

और अगर खुदा है तो फिर फ़िक्र क्यूँ।

दो बातें इंसान को अपनों से दूर कर देती है,

एक उसका अहम् और दूसरा उसका बहम।

पैसे से सुख कभी ख़रीदा नहीं जाता,

और दुःख का कोई खरीददार नहीं होता।

मुझे जिन्दगी का इतना तजुर्बा तो नहीं,

पर सुना है सादगी में लोग जीने नहीं देते।

किसी की गलतियों का हिसाब ना कर,

खुदा बैठा है तू हिसाब ना कर।

इनको भी पढ़े

दोस्तों कैसी लगी आपको Poem on Success and Hard Work in Hindi हमें कमेंट करके ज़रूर बताइए साथ ही इस इमोशनल हिंदी कविता को अपने साथियों के साथ शेयर करना ना भूले।

Leave a Reply

Your email address will not be published.