December 10, 2022
26 january republic day speech in hindi

26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर भाषण | Republic Day Speech in Hindi Language

Republic Day Speech in Hindi 2021 – दोस्तों गणतंत्र दिवस यानि की 26 जनवरी आने वाला है ऐसे में छात्र अपने स्कूल में Republic Day पर भाषण देते है। सबसे पहले मेरी तरफ से आप सभी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। आशा करता हूँ आप सभी ठीक होंगे।

26 january republic day speech in hindi

आज की इस पोस्ट में मैं आपके लिए गणतंत्र दिवस पर भाषण (Republic Day Speech in Hindi) लेकर आया हूँ। इस 26 January Speech in Hindi को आप अपने कॉलेज व स्कूल में सुना सकते है। इस 72th Republic Day Small Speech in Hindi, Speech for Republic Day in Hindi में आप अपने हिसाब से भी बदलाव कर सकते है।

72th Republic Day Speech in Hindi for Students

माननीय मुख्य अतिथि, आदरणीय अध्यापकगण, अभिभावकों और मेरे सभी प्यारे दोस्तों को मेरा हार्दिक नमस्कार। आप सभी को मेरी तरफ से गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई। आज हम सभी यहाँ 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस (रिपब्लिक डे) के इस शुभ अवसर को मनाने के लिए इक्कट्ठा हुए है और इस साल हम गणतंत्र दिवस का 72वां साल मना रहे है।

हम सभी जानते है कि गणतंत्र दिवस का यह सुभ अवसर हमारे लिए किसी त्यौहार से कम नहीं होता। इस दिन को हम बहुत ही ख़ुशी के साथ मनाते है क्योंकि 1950 में भारत का संविधान 26 जनवरी को लागू हुआ था। 1947 में ब्रिटिश शासन से आजादी मिलने के बाद जब 1950 में भारत का संविधान लागू हुआ तब हमारा भारत देश स्व-शासित देश बन गया। साथ ही हमारा देश विश्व में सबसे बड़े प्रजातंत्र देशो में से एक है। यही कारण है इस दिन को हम बहुत ही उमंग और धूमधाम से मनाते है।

गणतंत्र का अर्थ होता है कि सभी लोग स्वतंत्र और आजाद रहे ताकि लोग अपनी इच्छा शक्ति से एक सही नेता को चुन सके जिस से भारत का तेज़ी से विकास हो सके और सभी को एक समान कानून व्यवस्था मिले। मुझे यह बताते हुए बड़ी ख़ुशी होती है कि भारत एक गणराज्य देश है जहा जनता एक नेता, प्रधानमंत्री आदि के रूप में अपने नेताओं का चुनाव करती है।

26 जनवरी के दिन भारत की तीनो सेना वायु सेना, नौ सेना और थल सेना अपना अपना प्रदर्शन करती है। इस दिन नीले आसमान में वायु सेना रंगबिरंगी रंगोलियाँ बनाती है व लोगो को रोमांचित करती है। कॉलेज और स्कूलों में एक दूसरे को बधाईयाँ दी जाती है और साथ ही मिठाईयां भी बांटी जाती है।

हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत में “पूर्ण स्वराज्य” लाने के लिए बहुत संघर्ष किया है। उन्होंने ऐसा इसलिए किया ताकि उनकी आने वाली पीढ़ी को कोई संघर्ष ना करना पड़े और वो देश को आगे लेकर जा सके। हम हर साल इस दिन भारत के स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मान देते है

उनमे से हमारे कुछ महान भारतीय नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों के नाम है – महात्मा गाँधी, चन्द्र शेखर आजाद, भगत सिंह, लाल बहादुर शास्त्री, जवाहरलाल नेहरु है। इन सभी लोगो ने भारत को एक स्वतंत्र देश बनाने के लिए ब्रिटिश शासन का डटकर सामना किया।

हमारे देश को स्वतंत्रता दिलाने में जिस भी देशभक्त ने हमारे देश के लिए लड़ाईयां लड़ी हमे उन देशभक्तों को कभी नहीं भूलना चाहिए। मैं अपने आप में गर्व महसूस करता हूँ कि मैं एक ऐसे देश में रहता हूँ जहाँ मैं अपने मन की सोच सकता हूँ, चुन सकता हूँ।

आखिरी में बस इतना कहना चाहूँगा कि मुझे आज इस महान अवसर गणतंत्र दिवस पर भाषण देने का मौका मिला, उम्मीद करूँगा आप सभी को मेरा यह भाषण पसंद आया होगा। धन्यवाद !

इसे ज़रूर पढ़ेRepublic Day Quotes in Hindi

26 January Speech in Hindi for Teachers

सबसे पहले मेरी तरफ से सभी को इस 71वें गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। माननीय प्रधान अध्यापक, अध्यापकगण एवम् मेरे प्रिय छात्रो, आज 26 जनवरी के दिन हम यहाँ सभी गणतंत्र दिवस के इस शुभ अवसर को मनाने के लिए इकट्ठा हुए है।

इस ख़ुशी के मौके पर मैं आप सभी को यह बताना चाहता हूँ कि भारत ने 15 अगस्त, 1947 को अंग्रेजो की गुलामी से आजादी मिली थी। लेकिन इसके लिए करीब 2 साल, 11 महीने और 18 दिनों के बाद 26 जनवरी, 1950 को भारत ने अपना संविधान लागू किया था। इसी दिन से भारत एक गणतंत्र राज्य के रूप में घोषित किया गया था।

26 जनवरी, 1950 को हिंदी और अंग्रेजी दोनों में राष्ट्रीय सभा द्वारा भारतीय संविधान की रूप रेख पर हस्ताक्षर किये गए थे। उसी दिन से भारत का संविधान अस्तित्व में आया था। तब से लेकर आज तक हम इस दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते है। हालांकि की भारत का इतिहास बहुत बड़ा है, भारत को गणतंत्र देश इसलिए कहा गया है क्योंकि इस देश के सर्वोच्च शक्ति को चुनने का अधिकार केवल देश की जनता के पास है।

भारत को आजाद कराने में हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने बहुत संघर्ष किया है उन्होंने अपने प्राण तक दे दिए ताकि आने वाली पीढीयों को कोई समस्या ना उठानी पड़े और वो भारत जसी इस महान देश को तरक्की की राह पर लेकर जा सके। इन महान नेताओं के समर्पण को हम कभीं नहीं भूल सकते। इस अवसर पर हम उन नेताओं को याद करते है और उन्हें सलामी देते है।

इस दिन हमारी देश की तीनो सेना इंडिया गेट से राष्ट्रपति भवन तक मार्च करती है। यह मार्च शुरू होने से पहले देश के प्रधानमंत्री अमर जवान ज्योति को पुष्प मला पहनाते है तथा इसके बाद शहीद सैनिको की स्मृति में 2 मिनट का मौन रखा जाता है। इस मार्च का सीधा प्रसारण आप अपने घरो में टेलीविजन के माध्यम से देख सकते है।

पढ़ेRepublic Day Wishes

अंत में मैं यही कहना चाहूँगा आइये हम सब एक जुट होकर के, एकता बनाकर के इस गणतंत्र दिवस को मानते है, खुशियाँ बांटते है। हम सब साथ भारतीय होने का दावा जिस तरीके से करते है ठीक उसी तरीके से इस भारत की गरिमा, मान-सम्मान को बचाए रखना भी हमारा ही कर्तव्य है। धन्यवाद, जय हिंदी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *